किस्सा दो बातों का
 
Notifications
Clear all

किस्सा दो बातों का  

  RSS
 Anonymous
(@Anonymous)
Guest

हाय दोस्तों

आज मैं आप के लिये कोई कहानी नहीं लाया लेकिन मैं आपसे केवल २ बातें करने आया हूं।

और ये दो बातें केवल लड़कियों के लिये हैं।

तो लेडीज़---गौर फ़रमायें।

आप या तो कुंवारी होंगी या फ़िर शादी शुदा

शादीशुदा हो तो ठीक है, कुंवारी होंगी तो २ बातें होंगी,

या तो आप शादी करेंगी या नहीं।

शादी नहीं कि तो ठीक लेकिन अगर की तो २ बातें होंगी,

या तो आपका पति ठरकी होगा या नहीं

ठरकी हुआ तो आपको चुदाई का मज़ा आयेगा लेकिन अगर ठरकी नहीं हुआ तो २ बातें होंगी

या तो आप एक ही बिस्तर पे सोयेंगे या अलग – अलग,

अलग से सोने का तो सवाल ही नहीं उठता और अगर एक ही बिस्तर पे होंगे तो २ बातें होंगी।

या तो आप बिना चुदे ही सो जायेंगी, फ़िर पति को गालियां देंगी।

बिना चुदे तो नींद आयेगी नहीं और अगर मन में पति को गालियां देंगी तो २ बातें होंगी।

या तो आप अपने पति को छोड़ने की सोचेंगी या फ़िर किसी और से अपनी चूत मरवाने की।

एक साल से पहले तो तालाक तो होगा नहीं और अगर किसी और से चुदवाना हो तो २ बातें होंगी।

या तो आप अपने किसी पुराने यार से चुदवायेंगी या किसी और से।

किसी और को तो ढूंढना पड़ेगा लेकिन अगर यार से चुदवाना होगा तो २ बातें होंगी।

या तो उसकी शादी हो गयी होगी या नहीं,

कुंवारा होगा तो ठीक लेकिन अगर शादी शुदा होगा तो २ बातें होंगी।

या तो वो आपको चोदेगा या नहीं।

चोद देगा तो आप खुश लेकिन अगर नहीं चोदेगा तो २ बातें होंगी।

आपको या तो अपनी जवानी ऐसे ही गुज़ारनी होगी या फ़िर किसी को ढूंढना होगा जो आपको चोद सके।

ऐसे जवानी बिताना मुश्किल है अगर किसी को ढूंढना हो तो २ बातें होंगी।

या तो वो आपको चोद के खुश कर पायेगा या नहीं।

खुश किया तो ठीक लेकिन अगर खुश नहीं किया तो २ बातें होंगी।

या तो आप को वो जैसा भी चोदे खुश रहना होगा या फ़िर किसी दूसरे के लंड को ट्राई करना होगा।

उससे चुदवा के ही खुश रहना है तो पति के लंड में क्या बुराई है,

लेकिन अगर दूसरा लंड ट्राई किया तो २ बातें होंगी।

या तो दूसरा लंड मस्त होगा या फ़िस,

मस्त हुआ इसकी क्या गारंटी लेकिन अगर फ़िस हुआ तो फ़िर एक और लंड ढूंढो।

अरे तो मेरी बात आपकी समझ में क्यों नही आती है--------

बार बार लंड ढूंढ रही हो और हर एक लंड फ़िसड्डी निकल रहे हैं। दुनिया से कितना चुदवाओगी।

Quote
Posted : 23/02/2011 6:36 am